Cities

बिलासपुर से पाली-दीपका होते कोरबा के लिए चलने वाली विरक बस बिलासपुर से लौट रही थी बिजली के तार से टकरा गई

NEWSBILLA

korba city :

बिलासपुर से पाली-दीपका होते कोरबा के लिए चलने वाली विरक बस बिलासपुर से लौट रही थी। पाली रोड पर जाम के कारण चालक ने टेढ़ीकुआं नुनेरा की ओर से बस निकालने का प्रयास किया। बस सड़क के ऊपर से गुजरे बिजली के तार से टकरा गई। इससे बस में करंट फैल गया। चालक-परिचालक बस से कूदकर भागे।

वहीं यात्री भी बस से नीचे उतर रहे थे। इस दौरान भिलाईबाजार के 7 वर्षीय धमेंद्र व उसकी 37 वर्षीय मां सुशीला बाई, दीपका की 35 वर्षीय उर्मिला, मानिकपुर की मिंत्रा 40 व उसकी बहन रामकुंवर 30 झुलस गए। सभी को ग्रामीणों के सहयोग से पाली अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पार्सल उतार कर बस को कराया पार

कोरबा से बिलासपुर जा रही शिवम बस के ऊपर पार्सल रखे थे। पाली के छिंदपारा में सड़क के ऊपर तार को देखकर चालक ने बस रोकी। पार्सल को उतारकर बस को आगे बढ़ाया। फिर पार्सल लोड किया। राजकुमार पटेल ने बताया दिन में तार देखकर बस रोक ली जाती है लेकिन रात में कई बार बसें इसी तरह तार तोड़कर निकाल जाती हंै।

ग्रामीणों ने रोका गांव से बस परिचालन

पाली-कटघोरा रोड पर गड्ढे के कारण भारी वाहनों के फंसने से जाम लगता है। इसलिए बिलासपुर से पाली, दीपका, कटघोरा व कोरबा की ओर आवाजाही करने वाली ज्यादातर बसें पाली के गांव से होकर गुजरती हैं।

बस बिजली ऑफिस के पास से छिंदपारा होकर ट्रांसपोर्टनगर के पास निकलती हैं। लेकिन बसों के परिचालन के दौरान चालकों की लापरवाही के कारण गांव में बिजली तार और खंभों के अलावा नाली टूटने की घटना हो रही थी। इससे गुस्साए ग्रामीणों ने शनिवार को गांव की सड़क पर बल्ली लगाकर बसों का परिचालन रोक दिया है।

Comment here