Top NewsWorld

संयुक्त राष्ट्र के मंच पर भारत की युवा शक्ति ने पाकिस्तान के झूठ का पर्दाफाश कर दिया

newsbilla

UN: एनम गंभीर से लेकर विदिशा मैत्रा तक, भारत की युवा राजनयिकों के अकाट्य तर्कों के आगे बेबस हुआ पाक

संयुक्त राष्ट्र के मंच पर भारत की युवा शक्ति ने पाकिस्तान के झूठ का पर्दाफाश कर दिया। इनाम गंभीर से लेकर विदिशा मैत्रा के जरिये भारत ने अपने युवाओं के साहस का परिचय दिया है

हाइलाइट्स

  • भारत ने पाकिस्तान को जवाब देने के लिए अपने युवा राजनयिकों को चुना है

  • इन राजनयिकों ने भी निराश नहीं किया, उन्होंने यूएन के मंच पर पाक की पोल खोलकर रख दी

  • इनाम गंभीर से लेकर विदिशा मैत्रा ने पाकिस्तान की करतूत दुनिया को बताई

  • इनाम ने 2017 और विदिशा ने 2019 में अपने कूटनीतिक कौशल का परिचय दिया

UN: एनम गंभीर से लेकर विदिशा मैत्रा तक

नई दिल्ली
संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाकिस्तानी पीएम इमरान खान की करीब 50 मिनट की तकरीर किसी राष्ट्राध्यक्ष के भाषण के बजाय किसी महजबी कठमुल्ले की ‘हेट स्पीच’ ज्यादा लगी, जिसमें भारत के खिलाफ जहर तो था ही, परमाणु युद्ध की धमकी भी थी।

लेकिन ‘राइट टु रिप्लाइ’ के तहत भारतीय राजनयिक ने महज 5 मिनट में इमरान की 50 मिनट की स्पीच की धज्जियां उड़ा दी। आतंकवाद को लेकर न सिर्फ पाकिस्तान के दोहरे चरित्र को उजागर किया, बल्कि इमरान के भाषण को ही हथियार बनाकर इस्लामाबाद को कठघरे में खड़ा किया।

पाकिस्तानी पीएम को उनके पूरे नाम इमरान खान नियाजी से संबोधित करके उन्हें 1971 के इतिहास की याद दिलाई, जब आज के बांग्लादेश और तत्कालीन पूर्वी पाकिस्तान में लेफ्टिनेंट जनरल नियाजी ने करीब 1 लाख पाकिस्तानी सैनिकों के साथ भारतीय सेना के सामने सरेंडर किया था।

Comment here